test

एक दिन महात्मा बुद्ध, प्रवचन सभा में आकर मौन बैठ गये, सारे शिष्य , उनके इस मौन के कारण चिंतित हुए, कि कहीं महात्मा बुद्ध बीमार तो नहीं है। आखिर कार  एक शिष्य ने पूछ ही लिया, "भन्‍ते ! आप आज इस तरह चुप  क्‍यों हैं?” वे नहीं बोले तो दूसरे शिष्य ने फिर पूछा -"गुरुदेव ! आप ठीक तो हैं?” बुद्ध फिर भी मौन ही बैठे रहे।


इतने में बाहर से एक व्यक्ति ने, तेजी से चिल्लाते हुए पूछा,“आज आपने मुझे धर्मसभा में आने की अनुमति क्‍यों नहीं दी?"


बुद्ध ने कोई उत्तर नहीं दिया, और आंखें बन्द कर ध्यानमग्न हो गये। वह बाहर खड़ा व्यक्ति, और जोर से चिल्ला कर बोला- "मुझे धर्मसभा में क्यों नहीं आने दिया जा रहा है?”


धर्मसभा में बैठे, बुद्ध के शिष्यों में से एक ने, उस इंसान का समर्थन करते हुए कहा- “भन्ते! उसे धर्मसभा में आने की अनुमति प्रदान करे ।”


महात्मा बुद्ध ने आंखें खोलीं और बोले- "नहीं, उसे अनुमति नहीं दी जा सकती , क्योंकि वह अछूत है।”


“अछूत ! लेकिन क्यों?” सारे शिष्य सुनकर आश्चर्य में पड़ गये, कि भन्ते यह छुआछूत कब से मानने लग गये?


महात्मा बुद्ध ने, शिष्य समुदाय के मन के भावों को तोड़ते हुए कहा "हां, वह अछूत है। वह आज अपनी पत्नी से लड़ कर आया है। और क्रोध से भरा हुआ है , क्रोध से जीवन की शांति भंग होती है। क्रोध से सबसे पहले मन में, हिंसा का जन्म होता है , और फिर , इसी मानसिक हिंसक के प्रभाव में आकर इंसान, दुनिया में मार- पिट गाली गलौज, और बहुत से गलत काम करता है। क्रोध करने वाला अछूत होता है, क्योंकि उसकी विचार तरंगें, उसके नकारात्मक बिचार, दूसरों को भी गलत तरीके से  प्रभावित करती हैं। उसे आज धर्मसभा से बाहर ही रहना चाहिए। उसे आज, धर्म सभा से बाहर ही खड़े रह कर, पश्चाताप की अग्नि में तप कर, शुद्ध होने दो।”

शिष्यगण समझ गये, कि अस्पृश्यता क्या है और सही मायने में अछूत कौन होता है?


उस व्यक्ति को भी बहुत पश्चाताप हुआ । उसने कभी भी क्रोध न करने की कसम खायी। तब जाकर  बुद्ध ने उसे, धर्मसभा में आने की अनुमति प्रदान की।


दोस्तों, इस कहानी से हमने सीखा की , किसी भी इंसान के अछूत होने का आधार, उसका जन्म व् धर्म नहीं ,  बल्कि उसके कर्म व् बिचार होने चाहिए ,

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

electronics technician repair skills -आत्म निर्भर टेक्निशियन कैसे बने ?

business idea for electronics technician, इलेक्ट्रॉनिक्स टेक्निशियन के लिए बिजनेस आइडिया

Complete information about diode । डायोड की सम्पूर्ण जानकारी सिर्फ एक अध्याय में