Complete Details of Bridge Rectifiers Devices, ब्रिज रेक्टीफायर्स का पूरा विवरण

bridge rectifiers devices

हेलो दोस्तों - आपने पिछले लेसन में सिखा डायोड की छमता, उसका इस्तेमाल किस प्रकार से होगा, हाफ वेव रेक्टिफायर ,फुल वेव रेक्टिफायर सर्किट, एवं डायोड के नंबरिंग सिस्टम को समझा आपने अब आपकों पता है की ac current को dc current कैसे बनाना है-

Complete Details of Bridge Rectifiers Devices

ac को dc में क्यों बदला जा रहा है. आप ऊपर दिए हुए चित्र में देख सकते ह इलेक्ट्रॉनिक्स के बहुत सारे कंपोनेंट्स नजर आ रहे हैं जिनके अंदर कुछ कंपोनेंट्स एसी करंट पर चलने वाले हैं. तो कुछ dc करेंट पर चलने वाले है, चूँकि इन्ही कंपोनेंट्स की मदद से कोई आविष्कार किया जा सकता है. इसलिए ac को dc में बदलने की आवश्यक्ता पड़ती है. इसलिए डायोड का आविष्कार किया गया है. 

हालांकि इलेक्ट्रॉनिक्स के अंदर सभी कंपोनेंट्स एक शब्द की भांति है इसलिए यह किसी सीमा में बाध्य नहीं होता है कि सिर्फ और सिर्फ एसी करेंट से डीसी करंट बनाने के लिए ही काम करेगा इसके अनंत लाभ उठाए जा सकते हैं जिस प्रकार से एक शब्द होता है जिसका अलग-अलग प्रकार से इस्तेमाल करके अलग-अलग वाक्य बनाया जा सकता है ठीक उसी प्रकार से इलेक्ट्रॉनिक्स के अंदर कंपोनेंट्स भी होते हैं जिनका लाभ अनंत प्रकार से उठाया जा सकता है.

Complete Details of Bridge Rectifiers Devices

अब डायोड की तरफ से एक सुबिधा और मिल जाती है की जो आप 4 डायोड की मदद से ब्रिजरेक्टिफायर सर्किट बना रहे है तो वह 4 डायोड को मिलाकर एक नया आविष्कार कर दिया गया है जो की बना बनाया ब्रिज रेक्टिफायर सर्किट है. जैसा की आप ऊपर दिए हुए चित्र में देख सकते है. इसका इस्तेमाल आप कही भी कर सकते है अपनी मर्जी से इसकी लोड छमता को देख कर, इसके अंदर भी छमता को लेकर वही बाते होती है जो डायोड के अंदर होती है, 
Complete Details of Bridge Rectifiers Devices

यह आपको अनेक प्रकार के रूप में देखने को मिल सकता है। यह काफी छोटा साइज में देखने को मिल सकता है और बड़ा साइज में भी मिल सकता है जैसा की आप ऊपर दिए हुए चित्र में देख सकते है. यह छोटे और बड़े उपकरण में इस्तेमाल किया जा सके उसके के हिसाब से कम या ज्यादा शक्तिशाली एवं साइज का बनाया जाता है. दुनिया का कोई भी आविष्कार हो चाहे छोटा हो या बड़ा मोबाइल चार्ज़र हो या LED बल्ब कलर TV हो या LCD आपको सभी उपकरड़ो में यह ब्रिजरेक्टिफायर
कॉम्पोनेन्ट लगा हुआ मिलेगा जहा पर डायरेक्ट AC को DC में बदलने का काम लिया जाना हो,   

Complete Details of Bridge Rectifiers Devices

अब इस रेडीमेड ब्रिजरेक्टिफायर की पिन को कैसे पहचानेंगे की किस पिन पर AC देना है और किस पिन से DC लेना है. तो इसमें आपको बिलकुल भी चिंता करने की जरूरत नहीं है यह बड़ा ही आसान होता है आप निचे दिए  चित्र में देखिये इस प्रकार के ब्रिजरेक्टिफायर आपको बहुत प्रकार के रूप में देखने को मिल सकता है. इन अंदर चार टर्मिनल होते है. दो AC  के लिए दो DC के लिए बने रहते है. और AC टर्मिनल के ऊपर AC का चिन्ह दर्शाया गया रहता है DC के ऊपर DC का चिन्ह दर्शाया गया रहता है।   

Complete Details of Bridge Rectifiers Devices

अब कोई जरुरी नहीं है की सभी आविष्कार में इसी प्रकार के ब्रिजरेक्टिफायर का इस्तेमाल किया गया रहेगा, अब यह उस निर्माण करता के ऊपर है वह क्या लगाएगा क्या नहीं लगाएगा, अगर किसी अविष्कार में इस रेडीमेड ब्रिज रेक्टिफायर का इस्तेमाल किया गया है तो आप चाहे तो अपने मर्जी से आप किसी भी प्रकार का ब्रिजरेक्टिफायर लगा सकते है, उसकी छमता के हिसाब से, आप चार डायोड जोड़कर भी ब्रिज रेक्टिफायर बनाकर उस स्थान पर लगा सकते है, इसकी छमता को समझने के लिए इसके कोड को इंटरनेट पर सर्च कर सकते है। 

टिप्पणियाँ

  1. LED TV EMI सर्किट में जितने भी कम्पोनेंट्स लगती है सबकी जानकारी वैल्यू के साथ दिजिए सर,

    जवाब देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

electronics technician repair skills -आत्म निर्भर टेक्निशियन कैसे बने ?

business idea for electronics technician, इलेक्ट्रॉनिक्स टेक्निशियन के लिए बिजनेस आइडिया

Complete information about diode । डायोड की सम्पूर्ण जानकारी सिर्फ एक अध्याय में